यूपीआई पिन क्या है और इसे कैसे बनाते हैं?

हर कोई इस समय डिजिटल भुगतान प्रणाली का लाभ उठाकर यूपीआई आधारित लेन-देन कर रहे हैं, जिससे हमें पैसों से संबंधित लेन-देन करने में आसानी हो रही है, लेकिन अभी भी बहुत से लोग ऐसे हैं जो यूपीआई पिन क्या है?इस विषय पर बिल्कुल कोई जानकारी नहीं है।

हाल के वर्षों में इंटरनेट का हर क्षेत्र में बहुत तेजी से विकास हुआ है, ऐसे में ऑनलाइन पेमेंट को काफी बढ़ावा मिला है, इस वजह से आपने यूपीआई और इससे जुड़े शब्द जैसे यूपीआई पिन आदि कहीं न कहीं जरूर सुने होंगे। मौजूदा समय में ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करने के लिए यूपीआई पिन जरूरी है।

यूपीआई पिन के बिना, हम वर्तमान में यूपीआई भुगतान प्रणाली जैसे मोबाइल बैंकिंग ऐप का उपयोग कर रहे हैं फोन पर, गूगल पे, Paytm आदि से लेन-देन नहीं किया जा सकता है। छोटे-बड़े ट्रांजैक्शन करने के लिए यूपीआई पिन की जरूरत होती है, इसलिए हम यूपीआई पिन क्या है? यह जानना जरूरी है।

इसके अलावा बहुत से लोग यूपीआई पिन कैसे बनाते हैं? इस विषय के बारे में बिल्कुल भी जानकारी नहीं है इसीलिए हमने आज के इस लेख को लिखने का चुनाव किया है जिसमें हम जानेंगे की UPI PIN क्या है और इसे कैसे बनाया जाता है? और इससे जुड़ी सभी जानकारी विस्तार से जानेंगे।

यूपीआई पिन क्या है – यूपीआई पिन क्या है

यूपीआई पिन को समझने से पहले हमें यूपीआई को निचले स्तर पर समझना होगा। यूपीआई का फुल फॉर्म यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस है, यह एनपीसीआई द्वारा विकसित एक प्रकार का भारतीय पेमेंट सिस्टम है, जिसकी मदद से आप किसी भी तरह का ऑनलाइन ट्रांजैक्शन तुरंत कर सकते हैं।

इसी तरह, यूपीआई पिन 4 से 6 अंकों का पिन होता है, जो यूपीआई से संबंधित लेनदेन करते समय आवश्यक होता है। जब हम अपने बैंक को मोबाइल बैंकिंग का उपयोग करने के लिए फोनपे, भीम यूपीआई, गूगल पे आदि जैसे यूपीआई मोबाइल बैंकिंग ऐप से लिंक करते हैं तो हमें यूपीआई पिन जनरेट करने की आवश्यकता होती है।

यूपीआई पिन बिल्कुल एटीएम पिन की तरह होता है क्योंकि जब हम एटीएम से कोई ट्रांजैक्शन करते हैं तो हमें एटीएम पिन की जरूरत होती है और बिना एटीएम पिन के हम एटीएम से किसी भी तरह का ट्रांजैक्शन नहीं कर सकते हैं। जब हम अपने UPI खाते से लेन-देन कर रहे होते हैं तो हमें UPI पिन की आवश्यकता होती है और बिना UPI पिन के हम UPI से संबंधित कोई भी लेन-देन नहीं कर सकते हैं।

यूपीआई पिन कैसे जानें?

अब आपको UPI Pin के बारे में पता चल गया होगा, लेकिन अब सवाल यह है कि आप अपना UPI Pin कैसे पता लगा सकते हैं, तो आपको बता दें कि अगर आप किसी व्यक्ति या अपने खुद के UPI का UPI पिन जानना चाहते हैं, तो आप कर सकते हैं। इसका पता नहीं चल पाता क्योंकि जब आप UPI अकाउंट सेटअप करते हैं तो आपको UPI पिन बनाना होता है।

हम किसी भी तरह से यूपीआई पिन का पता नहीं लगा सकते, इसे आपको खुद बनाना होगा।

ये भी जानिए: अगर आप अपना यूपीआई पिन भूल जाते हैं तो क्या करें?

यूपीआई पिन कैसे बनाते हैं?

अब बहुत से लोगों के मन में ये है की UPI PIN कैसे create करें? यह सवाल होगा तो आपको बता दें कि अगर आप अपना खुद का यूपीआई पिन बनाना चाहते हैं और मोबाइल बैंकिंग का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको किसी भी यूपीआई आधारित मोबाइल बैंकिंग ऐप जैसे गूगल पे, फोन पे, पेटीएम, भीम यूपीआई आदि का इस्तेमाल करना होगा। इंस्टॉल करें और उसमें अपने मोबाइल नंबर से अकाउंट बनाएं।

उसके बाद UPI पिन बनाने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें, लेकिन ध्यान रखें कि नीचे दी गई प्रक्रिया Google Pay द्वारा बनाए गए UPI पिन के लिए है, लेकिन चिंता न करें, लगभग सभी UPI आधारित मोबाइल बैंकिंग ऐप्स में कुछ ऐसा ही है। सिर्फ यूपीआई पिन बनाना होगा –

स्टेप 1। सबसे पहले यूपीआई आधारित मोबाइल बैंकिंग ऐप जैसे फोन पे, गूगल पे आदि को ओपन करें जिस पर आपने मोबाइल नंबर से अकाउंट बनाया है।

चरण दो। अब उस ऐप में Add a Bank account का ऑप्शन ढूंढे और उस पर क्लिक करे उसके बाद आपके सामने अलग-अलग बैंक आ जाएंगे जिसमें से आप अपने मोबाइल नंबर से लिंक्ड बैंक अकाउंट को सेलेक्ट कर सकते हैं।

चरण 3। उसके बाद फाइंड अकाउंट्स टैब खुलेगा, जिसमें कुछ देर लोड करने के बाद बैंक खाते से जुड़े मोबाइल नंबर पर एक एसएमएस आएगा और वेरिफिकेशन के बाद आपका बैंक खाता आ जाएगा।

चरण 4। अब सबसे नीचे आपको स्टार्ट का ऑप्शन मिलेगा उस पर क्लिक करने के बाद एक टैब खुलेगा जिसमें आपको अपने बैंक खाते के एटीएम के आखिरी 6 अंक और अपने एटीएम कार्ड की एक्सपायरी डेट डालनी है।

चरण 5। फिर नीचे की तरफ तीर का निशान होगा, उस पर क्लिक करें, ऐसा करने के बाद क्रिएट अ यूपीआई पिन का नया टैब खुलेगा, जिसमें नीचे की तरफ क्रिएट पिन का विकल्प मिलेगा, उस पर क्लिक करें।

चरण 6। अब एक नया टैब खुलेगा जिसमें आपको सबसे पहले Enter OTP का विकल्प मिलेगा। आपके बैंक खाते से जुड़े मोबाइल नंबर पर ओटीपी प्राप्त होने के बाद, स्वचालित रूप से इसका पता लगाएगा और नीचे आपको एटीएम पिन दर्ज करने का विकल्प मिलेगा, जिसमें आपके एटीएम कार्ड का पिन दर्ज करें।

चरण 7। एटीएम कार्ड का पिन डालने के बाद नीचे राइट साइन पर क्लिक करें, अब एक सेट यूपीआई पिन लिखा होगा, जिसमें यूपीआई पिन सेट करें, ध्यान रहे कि यूपीआई पिन इस तरह से सेट करें कि इसकी जानकारी सिर्फ आपको हो . इसके बाद नीचे राइट साइन पर क्लिक करें।

चरण 8। फिर कंफर्म यूपीआई पिन लिखा होगा जिसमें सेट यूपीआई पिन दोबारा डालें और राइट साइन पर क्लिक करें और इतना सब करने के बाद आपका यूपीआई पिन सक्सेसफुली जनरेट हो जाएगा।

इस तरह आप इन स्टेप्स को फॉलो करके बहुत ही आसानी से यूपीआई पिन बना सकते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न)

तो चलिए अब हम यूपीआई पिन क्या है से जुड़े कुछ ऐसे सवालों पर चर्चा करते हैं, जो लोगों द्वारा अक्सर पूछे जाते हैं –

एसबीआई, यूनियन, पीएनबी बैंक का यूपीआई पिन क्या है?

आपको बता दें कि सभी अलग-अलग बैंकों के हिसाब से अलग-अलग स्पेसिफिक पिन नहीं होता है, लेकिन जब हम अपने किसी भी बैंक अकाउंट को Mobile Banking App में UPI Transation के लिए सेट करते हैं, तो हमें उसी समय UPI बनाना होता है।

आपका यूपीआई पिन कौन जानता है?

आपको बता दें कि ऐसा कोई तरीका नहीं है जिससे यूपीआई पिन का पता लगाया जा सके, बल्कि यूपीआई पिन खुद बनाना होता है।

यूपीआई लेनदेन करते समय यूपीआई पिन क्यों मांगा जाता है?

UPI से लेन-देन करते समय सुरक्षा के लिए UPI पिन मांगा जाता है ताकि कोई अन्य व्यक्ति किसी उपयोगकर्ता के बैंक खाते से UPI के माध्यम से लेन-देन न कर सके और लेन-देन की प्रक्रिया सुरक्षित रहे।

निष्कर्ष

आज के समय में लगभग हर कोई यूपीआई का इस्तेमाल कर रहा है, इसलिए यूपीआई पिन के बारे में जानना बहुत जरूरी है, अब हमने आपके साथ यूपीआई से जुड़ी सभी जानकारी विस्तार से साझा की है, उम्मीद है कि इस लेख को पढ़ने के बाद आपको यह जानकारी मिल गई होगी। बहुत कुछ सीखने के लिए और आप यूपीआई पिन क्या है और इसे कैसे बनाते हैं? इससे जुड़ी सारी जानकारी भी पता चल जाएगी।

अंत में बस इतना ही कहना चाहूंगा कि इस लेख को सोशल मीडिया जैसे ट्विटर, फेसबुक आदि पर भी शेयर करें ताकि अन्य लोगों को भी इस विषय में जानकारी मिल सके।

Leave a Comment